प्रदेश के 65 प्रतिश्त व्यक्तियों को कोरोना से बचाव के लिए टीके की प्रथम खुराक दी गई: डाॅ. सैजल

himachal

अर्की विधानसभा क्षेत्र में लगभग 1.91 करोड़ रुपए की योजनाओं का शिलान्यास

अनवर हुसैन…
स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण तथा आयुष मन्त्री डाॅ. राजीव सैजल ने कहा कि प्रदेश सरकार लोगों को कोविड-19 महामारी से बचाने के लिए दृढ़संकल्प है और हिमाचल, देश का ऐसा पहला राज्य है जहां 65 प्रतिशत लोगों को कोरोना संक्रमण से बचाव के लिए टीके की प्रथम खुराक सुनिश्चित बनाई गई है। डाॅ. सैजल गत सांय सोलन जिला के अर्की विधानसभा क्षेत्र की ग्राम पंचायत दाड़ला में उपस्थित जनसमूह को सम्बोधित कर रहे थे।
डाॅ. सैजल ने इससे पूर्व ग्राम पंचायत दाड़ला में लगभग 1.91 करोड़ रुपए की विकास परियोजनाओं की आधारशिला रखी। उन्होंने लगभग 1.30 करोड़ रुपए की लागत से निर्मित होने वाले करोरा से निचली नौणी तक 1.02 किलोमीटर लम्बे सम्पर्क मार्ग तथा 61.46 लाख रुपए की लागत से निर्मित होने वाले नौणी से बागा तक 1.48 किलोमीटर लम्बे सम्पर्क मार्ग की आधारशिला रखी। उन्होंने सम्पर्क मार्गांे का निर्माण कार्य 08 माह की अवधि में पूर्ण करने के निर्देश दिए।
आयुष मन्त्री ने कहा कि कोरोना संकट से निपटने के लिए सभी स्तरों पर सावधानी तथा टीकाकरण आवश्यक है। उन्होंने कहा कि हम सभी को कोविड-19 संकट से बचाव के साथ-साथ विकास की प्रक्रिया को भी आगे बढ़ाना है ताकि देश एवं प्रदेश की आर्थिकी में अपेक्षित सुधार लाया जा सके। उन्होंने सभी से आग्रह किया कि सार्वजनिक स्थानों पर हमेशा मास्क पहन कर रखें और बार-बार अपने हाथ साबुन अथवा एल्कोहल युक्त सेनिटाईजर से धोते रहें। उन्होंने सभी से आग्रह किया कि कोविड से बचाव के लिए टीकाकरण अवश्य करवाएं ताकि शीघ्र ही प्रदेश शत-प्रतिशत टीकाकरण के लक्ष्य को प्राप्त कर सके।
डाॅ. सैजल ने कहा कि देश में बच्चों को

Leave a Reply