रेलवे में नौकरी दिलाने के नाम पर युवक से 700000 की ठगी और 20 दिनों तक बंधक बनाए रखने का सनसनीखेज मामला सामने आया

Uncategorized

सत्यपाल सिंह। भागलपुर

भागलपुर की एसएसपी निताशा गुड़िया को आवेदन देकर ठगी गिरोह में शामिल लोगों पर कानूनी कार्रवाई करने की मांग की है मामले में बासुदेवपुर गांव के नकुल सिंह पशुपतिनाथ सिंह सुमन शर्मा एवं राहुल कुमार को आरोपी बनाया है वकील राम के अनुसार बासुदेवपुर गांव निवासी पशुपतिनाथ सिंह उर्फ जयराम सिंह ने मेरे पुत्र सूरज कुमार को रेलवे ग्रुप डी में नौकरी दिलाने के नाम पर ₹700000 की ठगी की थी पशुपति नाथ और उसके पिता नकुल से पड़ोसी प्रदीप राम ने परिचय कराया था रुपए लेने के बाद काफी दिनों तक टालमटोल करता रहा 18 जनवरी को बाप बेटे ने मिलकर मेरे पुत्र को फर्जी जॉइनिंग लेटर थमा दिया फिर नौकरी लगवाने के नाम पर उसे साथ लेकर चले गए नाथनगर के गनोड़ा बादरपुर गांव में भोला मंडल के घर ले जाकर उसे बंधक बना लिया वहां से 29 जनवरी को बासुदेवपुर लाकर मेरे बेटे को अपने घर में बंधक बनाकर रखा 31 जनवरी को उसे भागलपुर के रामसर में श्याम मंडल के घर पर रखा इस दौरान मेरा बेटा पशुपतिनाथ सिंह एवं नकुल सिंह से बार-बार हाथ जोड़कर विनती करता रहा लेकिन किसी ने नहीं सुना 7 फरवरी को उसे अलीगंज के भैरवपुर जनार्दन मंडल के घर में नजरबंद कर रखा गया था इस बीच मुझे भनक लगने पर ग्रामीणों के साथ भैरोपुर पहुंचा और बाप बेटे के चंगुल से अपने बेटे को मुक्त कराया बेटे ने बताया कि इस दौरान उसे काफी मानसिक और शारीरिक प्रताड़ना से मारपीट भी की गई घटना के बाद नकुल पशुपतिनाथ एवं उसका भाई फंटूश घर से फरार है

Leave a Reply