एचजीसीटीए ने वल्लभ कालेज मे सामूहिक हड़ताल के बाद गेट मीटिंग व धरना प्रदर्शन किया

mandi

 

लोकेशन:मंडी

हिमांशु अग्रवाल

 

लंबित यूजीसी के सातवें वेतन आयोग की सिफारिशों को महाविद्यालय व विश्वविद्यालय के प्रोफेसरों के लिए लागू नहीं करने पर एसोशिएशन ने गेट मीटिंग की।सरकार के प्रति एसोसिएशन के विश्वविद्यालयों व महाविद्यालयों के प्राध्यापको मे भारी रोष है।एसोसिएशन मंडी इकाई के प्रधान जसवंत सिंह ठाकुर ने बताया कि देश के 27 राज्यों के विश्वविद्यालयों व महाविद्यालयों व सभी केंद्र शासित प्रदेशों में यूजीसी के सातवें वेतन आयोग की सिफारिशों को लागू कर दिया गया है।  लेकिन हिमाचल प्रदेश में  यूजीसी के सातवें वेतन आयोग की सिफारिशों को अभी तक लागू नहीं किया जा रहा है। 

 

जसवंत सिंह ठाकुर ने कहा कि सरकार यूजीसी के सातवें वेतन आयोग की सिफारिशों को अविलंब लागू करवाने के 24 मई से महाविद्यालय के प्रोफेसरों 12:30 बजे से 1:30 बजे तक गेट मीटिंग व कक्षाओं का बहिष्कार जारी रखने का निर्णय किया उन्होंने सरकार से मांग करते हुए कहा कि शिक्षा की गुणवत्ता, विद्यार्थियों के भविष्य को मध्य नजर रखते हुए व प्राध्यापकों के संविधानिक अधिकारों को अक्षुण्ण बनाए रखने के लिए यूजीसी के सातवें वेतन आयोग की सिफारिशों को अविलंब लागू किया जाए।

Leave a Reply