चूड़धार में श्रद्धालुओं का तांता, हर हर महादेव के नारों से गूंजी चूड़धार वैली

himachal

 

अनवर हुसैन

चूड़धार में श्रद्धालुओं का तांता, हर हर महादेव के नारों से गूंजी चूड़धार वैली, लगातार भारी संख्या में पहुंच रहे बाहरी राज्यों से पर्यटक , नौणी विश्वविद्यालय के छात्रों ने यात्रा के दौरान विभिन्न जंगली पौधों की जुटाई जानकारी

सिरमौर जिला के विश्व प्रसिद्ध चूड़धार शिरगुल महाराज के दर्शनों के लिए इन दिनों भारी संख्या में श्रद्धालु पहुंच रहे हैं । गौर हो कि हर वर्ष बाबा भोलेनाथ के दर्शनों के लिए बाहरी राज्यों पंजाब, हरियाणा
,दिल्ली तथा उत्तराखंड सहित पूरे भारतवर्ष से सेनानी यहां आते हैं । समुद्र तल से लगभग 12000 फीट की ऊंचाई पर स्थित यह मंदिर जहां आस्था की दृष्टि से विश्व विख्यात है वहीं ट्रैकिंग और कैंपिंग के लिए भी चूड़धार वैली प्रकृति प्रेमियों को अपनी और आकर्षित करती है । यही नहीं इन दिनों नोणी विश्वविद्यालय के छात्रों के लिए भी चूड़धार वैली में उत्पन्न वनस्पति तथा विभिन्न दुर्लभ पौधे शोध एवं अनुसंधान का विषय बनी हुई है । हालांकि श्रद्धालुओं ने मंदिर प्रशासन द्वारा प्रदान की गई सुविधाओं की सराहना की परंतु शौचालय सुविधाएं ना होने की वजह से भारी समस्याओं से भी श्रद्धालुओं खासकर महिलाओं को भारी समस्याओं से भी जूझना पड़ा । जिसके लिए प्रशासन तथा सरकार से आग्रह किया गया है कि पानी और शौचालय की सुविधाओं में थोड़ा सुधार किया जाए ताकि महिलाओं को होने वाली असुविधाओं तथा गंदगी को फैलने से रोका जा सके । वहीं दूसरी और प्रशासन द्वारा चूड़धार के लिए पक्का सीमेंटेड ट्रैक बनाया जा रहा है जिसके फल स्वरुप सेनानियों अथवा श्रद्धालुओं के रास्ते से भटकने के मामलों में गिरावट आएगी । बता दें कि प्रतिवर्ष यात्रा के दौरान कई लोग रास्ते से भटक जाते हैं तथा प्रशासन को भारी मशक्कत लोगों को ढूंढने में करनी पड़ती है परंतु अब यह सीमेंटेड रास्ता बन जाने से हद तक श्रद्धालुओं के रास्ता भटकने के मामलों में गिरावट आएगी ।

Leave a Reply