सरपंच संगठन के द्वारा आज मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी का पुतला दहन

himachal

आज का समाचार के लिए उत्तराखंड से नवीन सिंह की रिपोर्ट

सीमान्त विकास खण्ड जोशीमठ के सरपंच संगठन ने नंदादेवी राष्ट्रीय पार्क वन प्रभाग के अधीन किये जा रहे कार्यो में धांधली की उच्चस्तरीय जांच की मांग को लेकर किया जा रहा धरना ग्यारहवें दिन में प्रवेश कर गया। आपको बता दें कि आज जोशीमठ मुख्य तिराहे पर सरपंच संगठन के लोगों ने मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी का पुतला दहन कर सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी की, बता दें कि वन सरपंच लगातार जांच करने की मांग कर रहे हैं, हालांकि पुतला दहन करने के बाद भी वन सरपंच जोशीमठ तहसील प्रांगण में धरने पर बैठ चुके हैं, और लगातार अपनी मांगों पर अड़े हुए हैं,

सरपंचों की मांग है कि नंदादेवी राष्ट्रीय पार्क द्वारा कराए जा रहे कार्यों का भौतिक सत्यापन किए जाने, सरपंचो को मानदेय दिए जाने, सरपंचो के वनाधिकार बहाल किये जाने, ग्रामीण क्षेत्रों में हो रहे विकास/निर्माण कार्यों पर ली जाने वाली रॉयल्टी को वन पंचायत के खाते में डाले जाने के साथ यह मांग भी प्रमुखता से उठाई गई है कि कार्यालय एवं फील्ड स्टाफ के जिन कार्मिकों को तीन वर्ष से अधिक हो गए हैं उनका स्थानांतरण एवं उनकी संपत्ति की जांच की जानी चाहिए।
अपनी इन मांगों को लेकर सरपंच संगठन प्रतिदिन जुलूस/प्रदर्शन के साथ तहसील परिसर में पहुंचकर क्रमिक धरना दे रहे हैं।
धरना/प्रदर्शन करने वालों में सरपंच संग्राम सिंह, धर्मेंद्र लाल, राकेश राणा, रघुवीर रावत, गबर सिंह, रणजीत सिंह, गुमान सिंह, भाल चंद्र चमोला, हरीश कैरणी, प्रकाश, व सुरेन्द्र सिंह आदि प्रमुख हैं।

Leave a Reply