महात्मा गांधी के आदर्शों पर चलकर हम भी अपने जीवन में कई अच्छे कार्य कर सकते हैं –अध्यक्ष राकेश धरवाल

himachal

जोगिंदर नगर से विजय भारद्वाज की रिपोर्ट 

देश भर में 2 अक्टूबर को महात्मा गांधी की 151वीं जयंती मनाई गयी। 2 अक्टूबर, 1969 को मोहनदास करमचंद गांधी यानी बापू का जन्म हुआ था। पूरे देश ने महात्मा गांधी के योगदान को याद किया। देश के दूसरे प्रधानमंत्री लाल बहादुर शास्त्री की भी 2 अक्टूबर को 118वीं जयंती मनाई गयी। महात्मा गांधी और लाल बहादुर शास्त्री का जन्म एक ही दिन हुआ था और 2 अक्टूबर को दोनों की जयंती मनाई जाती है। ब्लॉक कांग्रेस जोगिंदर नगर ने भी ब्लॉक अध्यक्ष डॉक्टर राकेश धरवाल् की अध्यक्षता में स्थानीय कांग्रेसी कार्यालय में सभी पदाधिकारियों और कार्यकर्ताओं की उपस्थिति में दोनों महान आत्माओं के चित्रों पर श्रद्धा सुमन अर्पित किए। डॉक्टर राकेश ने महात्मा गांधी जी के स्वतंत्रता संग्राम ने दिए गए योगदान को याद करते हुए कहा कि महात्मा गांधी ने पूरे जीवन सत्य और अहिंसा की राह चुनी। उन्होंने भारत की आजादी में महत्वपूर्ण योगदान निभाया था। महात्मा गांधी ने अपने जीवन के आदर्शों के पथ पर चलते हुए अहिंसा को अपना कर अंग्रेजों को भारत छोड़ने पर मजबूर कर दिया था । कहते हैं कि कोई भी व्यक्ति महान पैदा नहीं होता है, उसे उसके आदर्श, विचार और सरलता ही महान बनाते हैं। महात्मा गांधी के आदर्शों पर चलकर हम भी अपने जीवन में कई अच्छे कार्य कर सकते हैं और अपने जीवन को महान बना सकते हैं। महात्मा गांधी ने सत्य, अहिंसा, सत्याग्रह, असहयोग एवं सविनय अवज्ञा के माध्यम से राष्ट्रीय आंदोलन का संचालन किया। भारत में राष्ट्रीय स्तर पर गांधीजी द्वारा चलाए गए आंदोलनों में असहयोग आंदोलन, सविनय अवज्ञा आंदोलन और भारत छोड़ो आंदोलन प्रमुख रहे। उन्होंने स्वतंत्रता आंदोलन को नवीन दिशा प्रदान की ।
इस अवसर पर नगर परिषद जोगिंदर नगर अध्यक्षा ममता कपूर, अजय ठाकुर, लकी ठाकुर, सुरेंद्र ठाकुर, राजिंदर ठाकुर, गुरुषरण परमार, शशि अवस्थी, रूप लाल, संतोष कुमार, अनिल भंडारी, रविंद्र डोगरा, विंकल् , पंकज ठाकुर इत्यादि कार्यकर्ता उपस्थित रहे।

Leave a Reply